दोस्त ने की मदद कहानी, Motivational story in hindi for students

By | May 15, 2019

Motivational story in hindi for students

दोस्त ने की मदद कहानी, Motivational story in hindi for students, वह अपने दोस्त के पास आया और कहने लगा कि तुम्हें क्या हो गया तुम अचानक क्यों गिर गए थे उसका दोस्त कहने लगा कि मेरे पैर में चोट आई है जिसकी वजह से मैं अचानक ही गिर गया था.

दोस्त ने की मदद कहानी : Motivational story in hindi for students

Motivational story hindi.jpg

Motivational story in hindi for students

बड़ी मुश्किल से मैं स्कूल जा रहा था वह कहने लगा कि तुम्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है मेरे साथ स्कूल चलो हम धीरे-धीरे स्कूल की ओर चले जाएंगे वे दोनों बहुत ही अच्छे दोस्त थे और साथ में ही बैठा करते थे लेकिन आज वह आगे आ गया था जिसकी वजह से वह अचानक ही गिर गया क्योकि उसके पैर में चोट आई है उसका दूसरा दोस्त उसे उठाने के लिए आ जाता है और दोनों ही स्कूल निकल जाते हैं जब दोनों स्कूल पहुंचे तो वह बड़ी मुश्किल से स्कूल की ओर जा रहा था कि उसके पैर में काफी चोट आई थी उसका दोस्त यह बात नहीं जानता था कि उसको चोट आई है क्योंकि उसे इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं थी उसने पूछा कि तुम्हें चोट कैसे आई है तुम मुझे बता सकते हो तुमने अभी तक भी मुझे यह नहीं बताया कि तुम्हारे पैर में चोट कैसे लगी

Hindi Story :- अच्छे संस्कार की कहानी

वह कहने लगा यह कल की बात थी मैं कल घर की ओर जा रहा था शाम का वक्त था और मैंने ध्यान नहीं दिया था तभी मैंने देखा कि एक बूढ़ा आदमी सड़क पार कर रहा था और वह सड़क पार करने में बहुत ही ज्यादा परेशानी महसूस कर रहा था मैं उसकी मदद करने के लिए गया उसके पास गया था अचानक मेरा पैर कहीं पर फंस गया और पीछे से आ रहे स्कूटर ने मुझे हल्की सी चोट लगा दी जिसकी वजह से मेरे पैर में चोट आ गई स्कूटर वाला तो निकल चुका था और मैंने उस बूढ़े आदमी को सड़क पार करवा दी थी उसके बाद में बड़ी मुश्किल से घर पहुंचा मुझ से चला भी नहीं जा रहा था

Hindi Story :- कामयाबी की नयी सोच कहानी

अब उसका दोस्त समझ गया था कि क्या बात हुई थी जिसकी वजह से उसे काफी चोट आई थी उसके दोस्त ने कहा कि तुम्हें आराम करना चाहिए आज स्कूल नहीं आना चाहिए था तभी उसने कहा कि आज हमारा टेस्ट था इसलिए मुझे आना पड़ा अगर में टेस्ट ना देता तो मुझे अपनी क्षमता के बारे में बिल्कुल भी पता नहीं चलता कुछ देर बाद ही कक्षा में उनका टेस्ट होने लगा और जो टीचर टेस्ट दे रहे थे वह उन दोनों की ओर ध्यान दे रहे थे जब टेस्ट समाप्त हुआ तो उसके बाद उनकी कॉपिया जांची गई उसने अपने टेस्ट में बहुत अच्छा किया था जबकि उसके पैर में भी चोट आई थी

Hindi story :- एक नेक काम की कहानी

फिर भी उसने काफी अच्छा काम किया था टीचर ने उसे बुलाया जिसके पैर में चोट आई थी और पूछा कि तुम्हारी चोट अब कैसी है वह लड़का कहने लगा कि अभी भी थोड़ा दर्द है तभी टीचर ने कहा कि मैंने तुम दोनों की बात सुन ली थी मुझे भी पता नहीं था कि तुम इतने अच्छे हो कि तुम दूसरों की मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहते हो वह लड़का कहने लगा कि हमें तो सभी की मदद करनी चाहिए इसमें हमें बिल्कुल भी सोच विचार नहीं करना चाहिए टीचर कहते हैं कि जो इंसान अच्छे होते हैं वही ऐसा काम करते हैं तुमने उसके बाद स्कूल आने के बारे में सोचा यही बहुत बड़ी बात है जब कि तुम्हारे पैर में काफी चोट आई थी

Hindi story :- हमारे लिए क्या जरुरी है हिंदी कहानी

उसके बाद जब स्कूल की छुट्टी होती है तो दोनों दोस्त घर की और चलते हैं क्योंकि उसके पैर में चोट आई थी इसलिए उसका दोस्त उसे घर छोड़ने के लिए आया था जैसे ही घर पहुंचे तो उसकी मां कहने लगी कि तुम मेरे बेटे को छोड़ने आए हो तुम तो बहुत अच्छे लड़के हो तभी उसका दोस्त कहने लगा कि हम दोनों दोस्त हैं और साथ में ही बैठते हैं इसलिए मैं समझ सकता हूं कि इसके पैर में चोट आई है इसलिए मैं साथ में आया हूं उसकी मां ने कहा कि तुम बैठो मैं तुम्हारे लिए कुछ खाने के लिए लाते हैं उसके बाद दोनों दोस्त वहीं पर बैठे रहे और उन्होंने वहीं पर ही खाना खा लिया था उसका दोस्त कहने लगा मुझे घर चलना चाहिए

Hindi story :- जीवन में अच्छे की परख हिंदी कहानी

Hindi story :- किसमत की कहानी

घर पर मेरा इन सभी लोग इंतजार कर रहे होंगे वह सोच रहे होंगे पता नहीं स्कूल की छुट्टी कब हुई थी और वह अभी तक नहीं आया उसका दोस्त कहने लगा कि यह बात तो सही है क्योंकि तुम काफी देर से हमारे साथ हो और तुम्हारे घर वाले जरूर इस बारे में सोच रहे होंगे इसलिए तो मैं जल्दी ही घर पर चले जाना चाहिए उसके बाद वह अपने घर पर जाता है तभी उसके घर वाले पूछते हैं कि तुम तो काफी देर से पहुंचे हो तुम कहां गए थे हम तुम्हारे काफी देर से इंतजार कर रहे थे

Hindi story :- जीवन की नयी सीख कहानी

Hindi story :- एक सच्ची सेवा की हिंदी कहानी

तुम अभी तक घर पर क्यों नहीं आए थे इसके बाद उस लड़के ने सब कुछ बता दिया था कि किस तरह उसके दोस्त के पैर में चोट आई थी और उस को घर छोड़ने के बाद यहां पर आया जिसकी वजह से काफी देर हो गई थी सभी समझ गए थे कि उसका दोस्त बहुत अच्छा है जो दूसरों की मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहता है इसलिए जीवन में सभी के मदद करनी चाहिए, Motivational story in hindi for students, दोस्त ने की मदद कहानी, अगर आपको यह कहानी पसंद आयी है तो आप इसे शेयर कर सकते है और हमे भी बता सकते है.

Read More Hindi Story :-

Hindi story :- सफलता की खोज आसान नहीं है

Hindi story :- हमेशा साथ रहे कहानी

Hindi story :- जीवन का दुःख कहानी

Hindi story :- ईमानदारी की कहानी

Hindi story :- एक मोरल कहानी

Hindi story :- घड़ी कुछ कहती है कहानी

Hindi story :- मूर्खता का परिणाम कहानी

Hindi story :- एक अच्छे गांव की कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *