ईमानदारी की कहानी, Imandari ki kahaniya in hindi

By | May 8, 2019

Imandari ki kahaniya in hindi

ईमानदारी की कहानी, Imandari ki kahaniya in hindi, एक लड़का बहुत मेहनत के बाद अपने परिवार को चला रहा था, जिससे उसके परिवार को खाना मिल सके वह बहुत ही मेहनत करता था.

ईमानदारी की कहानी : Imandari ki kahaniya in hindi

hindi kahani.jpg

imandari ki kahaniya in hindi

सुबह ही अपने काम पर निकल जाया करता था वह जानता था कि अगर वह काम नहीं करेगा तो घर पर किसी के लिए भी खाना नहीं मिल पाएगा उसके घर पर छोटे बहन भाई थे जिनको वह पाल रहा था, उनके सिवा और कोई भी नहीं था वे तीनों ही उस छोटे से घर में रहते थे जो कि शायद बाहर से टूटा हुआ नजर आता था यह भी जानता था कि अगर वह बाहर काम नहीं करेगा तो उनके छोटे बहन भाई को खाना कौन खिलाएगा वह एक ऐसे कारखाने में काम करता था जहां पर लोहे के सामान बनाए जाते थे वह बहुत ही मेहनत करता था उसका मालिक भी यही कहता था कि यह लड़का बहुत मेहनती है अगर इससे कहा जाए कि रात को भी काम करना है तो यह काम को करने के लिए हमेशा तैयार रहता था,  

 

मालिक का यह कहना था कि यह उन लोगों से बहुत ज्यादा मेहनत करता है अगर हम किसी आदमी को इतना काम बताया जाए जितना कि वह कर सकता है तो वह भी नहीं कर पाएगा जितना यह लड़का कर सकता था काम के प्रति ईमानदारी भी इस लड़के के अंदर बहुत ज्यादा थी यह सिर्फ अपने काम पर ध्यान देता था और इससे कुछ भी समझ में नहीं आता था शायद हम यह भी कह सकते थे कि इसकी कोई मजबूरी होगी जिसकी वजह से यह अपने काम पर ध्यान देता है

Hindi Story :- अच्छे संस्कार की कहानी

एक दिन मालिक से रहा नहीं गया और उसने पूछा कि तुम इतनी मेहनत करते हो तुम्हारे घर पर और कौन-कौन है लड़का कहने लगा कि मेरे अलावा मेरे छोटे बहन भाई हैं और कोई भी मेरा यहां पर नहीं है हम तीनों ही रहते हैं उन्हीं के लिए मैं यह सब काम करता हूं मालिक उसकी बातें बहुत पसंद आई मालिक ने सोचा कि यह लड़का बहुत मेहनती है और आगे चलकर बहुत कुछ कर सकता है इसलिए मुझे भी इसके लिए कुछ करना चाहिए मालिक ने कहा कि तुम कहां पर रहते हो तो लड़के ने बताया कि हम एक टूटे हुए मकान में रहते हैं

Hindi story :- जीवन की नयी सीख कहानी

यह पता नहीं वह किसका है लेकिन वह खाली पड़ा रहता है उसी में हम लोग रहते हैं मालिक ने कहा कि कल से वहां पर रहने की जरूरत नहीं है कल सुबह ही तुम हमसे आकर मिलना उसके बाद मैं तुम्हें बताऊंगा कि तुम्हारे लिए कौन सी जगह अच्छी होगी उस लड़के को तो कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि मालिक क्या कहना चाहते हैं लेकिन जैसा मालिक ने कहा था अगले दिन वह अपने बहन भाइयों को लेकर वहां पर आ गया था

Hindi story :- बाहर की दुनिया नयी कहानी

अभी काम का वक्त नहीं हुआ था काम अभी दोपहर बाद शुरू होना था मालिक आया और कहने लगा कि तुम लोग आ गए हो लड़का कहने लगा कि जैसा कि आपने बताया था हम लोग समय पर आ गए हैं आप हम से कौन सा काम करवाना चाहते हैं मालिक ने कहा कि जो तुम्हारी जगह रहने की है वह अच्छी नहीं थी इसलिए मैं जगह को बदलना चाहता था इसी वजह से तुम्हें यहां पर बुलाया है आज के बाद तुम यहीं पर रहोगे मालिक की बात सुनकर लड़का कुछ देर सोचता रहा हो कहने लगा कि आज की दुनिया में तो कोई भी किसी की मदद नहीं करता है आप मेरी मदद क्यों कर रहे हैं

Hindi story :- एक सच्ची सेवा की हिंदी कहानी

तभी यह मालिक ने कहा कि तुम बहुत ही मेहनती हो ईमानदार हो मैं तुम्हें बहुत समय से देख रहा हूं कि तुम बहुत अच्छी तरह काम करते हो तुम्हारे काम की लगन से मैं बहुत खुश हो गया हूं मुझे लगता है कि तुम जीवन में कुछ कर सकते हो इसलिए मैं तुम्हें यहां पर लेकर आया हूं आज के बाद तुम  छोटे से मकान में रहोगे,  मकान बहुत समय से खाली पड़ा हुआ है यहां पर और कोई नहीं रहता है उसके बाद वह लड़का उसके बहन भाई दोनों वहीं पर रहने लगे और मालिक भी बीच-बीच में उनके लिए हर जरूरी मदद करने के लिए तैयार रहता था

Hindi story :- हमेशा साथ रहे कहानी

Hindi story :- जीवन का दुःख कहानी

जिसकी उन्हें जरूरत होती थी मालिक हमेशा लाया करता था लड़का वैसे ही काम करता रहा जैसा कि पहले करता था और मालिक कभी कभी उन बच्चों की सेवा भी किया करता था तो बहुत छोटे थे और जिन्हें वह घर पर छोड़कर जाया करता था समय बीत गया था और लड़का भी अब बड़ा हो गया था अब मालिक ने लड़के को बहुत सारा काम सौंप दिया था और कहा था कि अब तुम ही मेरा काम संभाल सकते हो क्योंकि मेरे पास और कोई नहीं है जो काम को संभाल सके मुझे लगता है तुम बहुत मेहनती हो तुम इस काम को आगे ले जा सकते हो लड़के ने बहुत अच्छी अच्छी तरह से काम को संभाल लिया था और मालिक को बिल्कुल भी कोई तकलीफ नहीं हो रही थी

Hindi story :- उसकी एक अच्छी दोस्त थी

Hindi story :- हमारे लिए क्या जरुरी है हिंदी कहानी

Hindi Story :- उस दिन की गर्मी नयी कहानी

मालिक ने सोचा की मेरे साथ में कोई भी नहीं रहता है अगर इस लड़के की शादी हो जाये तो बहुत अच्छा होगा मालिक ने लड़के की शादी भी करवा दी थी जिससे की उस लड़के का घर अब बहुत अच्छा हो गया था अब मालिक को लग रहा था की शायद मेरा फैसला बहुत अच्छा था जिसके बड़ा वह लड़का मेरे घर पर आया था आज मेरा जीवन भी बहुत अच्छा हो गया है सभी लोग मेरी कितनी सेवा करते है शायद इस पल की चाह भी मुझे नहीं थी मगर मेरा जीवन बिलकुल ही बदला गया था 

Hindi story :- अपनी अपनी कहानी

Hindi story :- एक नेक काम की कहानी

Hindi story :- जीवन में अच्छे की परख हिंदी कहानी

यह कहानी हमें यही बताती है कि हमारे अच्छे कर्म ही हमें आगे का रास्ता दिखाते हैं अगर हम जीवन में अच्छा काम करते चलेंगे तो हो सकता है हमारा जीवन भी आगे का बहुत अच्छा बन जाए, ईमानदारी की कहानी, imandari ki kahaniya in hindi, अगर आपको यह कहानी पसंद आई है तो आगे भी शेयर करें कमेंट करके हमें भी बताएं.

Read More Kahaniya in hindi :-

Read More Kahaniya in hindi -निगम का घर कहानी

Read More Kahaniya in hindi -नयी बातों की कहानियाँ

Read More Kahaniya in hindi -एक मोरल कहानी

Read More Kahaniya in hindi -मूर्खता का परिणाम कहानी

Read More Kahaniya in hindi  -सेनापति और किसान की कहानी

Read More Kahaniya in hindi -तीन दोस्तों की कहानी

Read More Kahaniya in hindi -रेगिस्तान का तूफ़ान कहानी

Read More Kahaniya in hindi -पहाड़ी का सफर कहानी

Read More Kahaniya in hindi -आखिर कोई मिल ही गया कहानी

Read More Kahaniya in hindi -एक अधूरी कहानी

Read More Kahaniya in hindi -एक अच्छे गांव की कहानी

Read More Kahaniya in hindi -घड़ी कुछ कहती है कहानी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *